Two Lines Hindi gazal Shayari on Attitude for Whatsapp status is best and latest gazal shayaries for self-believe and value, Download these shero-shayri to get more like and comments on facebook.

shayaron se talluk rakho, tabiyat...

shayaron se talluk rakho, tabiyat thik rahegi

ye vo hakim hain, alafajo se ilaj karate hai


शायरों से ताल्लुक रखो, तबियत ठीक रहेगी

ये वो हकीम हैं, अलफ़ाजो से ईलाज करते है।

 

  • Share on Facebook
  • Share on Google
  • Share on Twitter

har janam men usi ki chahat the ham...

har janam men usi ki chahat the

ham kisi aur ki amanat the


usaki anakhon men jhilamilati hui

ham gajal ki koi alamat the


teri chadar men tan samet liya

ham kahan ke darajakaamat the


jaise janagal men ag lag jaye

ham kabhi itane khaubasurat the


pas rahakar bhi dur-dur rahe

ham naye daur ki mohabbat the


is khaushi men mujhe khayal aya

gam ke din kitane khaubasurat the


din men in juganuon se kya lena

ye diye rat ki jarurat the

हर जनम में उसी की चाहत थे

हम किसी और की अमानत थे

 

उसकी आँखों में झिलमिलाती हुई

हम ग़ज़ल की कोई अलामत थे

 

तेरी चादर में तन समेट लिया

हम कहाँ के दराज़क़ामत थे

 

जैसे जंगल में आग लग जाये

हम कभी इतने ख़ूबसूरत थे

 

पास रहकर भी दूर-दूर रहे

हम नये दौर की मोहब्बत थे

 

इस ख़ुशी में मुझे ख़याल आया

ग़म के दिन कितने ख़ूबसूरत थे

 

दिन में इन जुगनुओं से क्या लेना

ये दिये रात की ज़रूरत थे।

  • Share on Facebook
  • Share on Google
  • Share on Twitter

ek qatara malal bhi boya nahin...

ek qatara malal bhi boya nahin gaya

vo khauph tha ke logon se roya nahin gaya

yah sach hai ke teri bhi ninaden ujadd gayin

tujh se bichhadd ke ham se bhi soya nahin gaya

us rat tu bhi pahale sa apana nahin laga

us rat khul ke mujhase bhi roya nahin gaya

daman hai khhushk anakh bhi chup chap hai bahut

laddiyon men anasuon ko piroya nahin gaya

alafaj talkhh bat ka anadaj sard hai

pichhala malal aj bhi goya nahin gaya

ab bhi kahin kahin pe hai kalakh lagi hui

ranajish ka dag thik se dhoya nahin gaya

एक क़तरा मलाल भी बोया नहीं गया

वो खौफ था के लोगों से रोया नहीं गया

यह सच है के तेरी भी नींदें उजड़ गयीं

तुझ से बिछड़ के हम से भी सोया नहीं गया

उस रात तू भी पहले सा अपना नहीं लगा

उस रात खुल के मुझसे भी रोया नहीं गया

दामन है ख़ुश्क आँख भी चुप चाप है बहुत

लड़ियों में आंसुओं को पिरोया नहीं गया

अलफ़ाज़ तल्ख़ बात का अंदाज़ सर्द है

पिछला मलाल आज भी गोया नहीं गया

अब भी कहीं कहीं पे है कालख लगी हुई

रंजिश का दाग़ ठीक से धोया नहीं गया।

  • Share on Facebook
  • Share on Google
  • Share on Twitter

Search terms leading to this page are gazal shayari, love feelings in hindi. You may also check heart touching gazal status in hindi . We hope you like our Latest collection of हिंदी शायरी.